'समर्थ' पोर्टल के साथ एकीकरण से सम्बद्ध कालेजों को मिलेगा बेहतर दक्षता और सुलभता का लाभ - कुलपति

Jul 6, 2024 - 19:14
Jul 6, 2024 - 19:15
 0  381
'समर्थ' पोर्टल के साथ एकीकरण से सम्बद्ध कालेजों को मिलेगा बेहतर दक्षता और सुलभता का लाभ - कुलपति

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय ने सम्बद्ध महाविद्यालयों को समर्थ पोर्टल से जोड़ने के लिए आयोजित की कार्यशाला

हिन्द भास्कर, गोरखपुर।

प्रशासनिक और शैक्षणिक कार्यों की दक्षता बढ़ाने के दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय ने संवाद भवन में सम्बद्ध महाविद्यालयों को समर्थ पोर्टल से जोड़ने के उद्देश्य से कार्यशाला आयोजित की। यह पहल छात्र और प्रशासनिक सेवाओं के कार्यों को डिजिटल बनाने के विश्वविद्यालय के चल रहे प्रयासों का हिस्सा है।

कार्यशाला में गोरखपुर जिले के 90 महाविद्यालयों के प्राचार्य और कंप्यूटर ऑपरेटरों ने प्रतिभाग लिया। सभी उपस्थित लोगों ने सफलतापूर्वक अपने-अपने पोर्टल में लॉग इन किया और अपने महाविद्यालयों के बारे में बुनियादी डेटा दर्ज किया। समर्थ पोर्टल इन महाविद्यालयों को धीरे-धीरे अपने सभी शिक्षकों और कर्मचारियों को नामांकित करने में सक्षम बनाएगा, जिससे अवकाश और अन्य प्रशासनिक गतिविधियों का ऑनलाइन प्रबंधन आसान हो जाएगा। यह डिजिटल परिवर्तन कॉलेज के विद्यार्थियों को अधिक कुशल बनाने के लिए शैक्षणिक और पाठ्येतर प्रक्रियाओं को भी सुव्यवस्थित करेगा।

कार्यशाला के दौरान प्रतिभागियों की सहायता और मार्गदर्शन के लिए विश्वविद्यालय की समर्थ टीम के सह समन्वयक समर्थ डॉ. मदन सिंह चौहान, प्रोग्रामर श्री सुधीर तिवारी आदि उपस्थित रहे।

कुलपति प्रो. पूनम टंडन ने कहा, "यह पहल हमारी शैक्षणिक और प्रशासनिक प्रणालियों को आधुनिक बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। समर्थ पोर्टल के साथ एकीकरण द्वारा हमारे संबद्ध कॉलेजों को बेहतर दक्षता और सुलभता का लाभ मिलेगा, जिससे अंततः हमारे छात्रों के समग्र शैक्षिक अनुभव में वृद्धि होगी।"

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow