बिजली समस्या को लेकर व्यापारियों ने सौंपा अधीक्षण अभियंता को ज्ञापन

Jun 28, 2024 - 21:43
 0  19
बिजली समस्या को लेकर व्यापारियों ने सौंपा अधीक्षण अभियंता को ज्ञापन

बिजली समस्या को लेकर व्यापारियों ने अधीक्षण अभियंता से मिल सौंपा ज्ञापन‌।

  जिला अध्यक्ष ने कहा व्यापारियों का शोषण बर्दाश्त नहीं, समस्या समाधान की उठाई मांग।

  सोनभद्र । उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार संगठन रावर्ट्सगंज से जुड़े व्यापारियों का एक प्रतिनिधि मंडल संगठन के जिला अध्यक्ष कौशल शर्मा के नेतृत्व में शुक्रवारको विद्युत वितरण खंड कार्यालय रावर्ट्सगंज पहुंच कर बिजली की समस्याओं को लेकर अधीक्षण अभियंता से वार्ता कर उन्हें ज्ञापन प्रेषित किया। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि संगठन व्यापारी समस्याओं के लिए प्रतिबद्ध है, व्यापारियों का शोषण किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। संगठन के जिलाध्यक्ष कौशल शर्मा ने कहा कि नियमानुसार नगर पालिका क्षेत्र एवं नगर पंचायत क्षेत्र में 7 दिनों के अंदर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 15 दिनों के अंदर बिजली कनेक्शन देने का प्रावधान है बावजूद इसके ऑनलाइन किए गए आवेदन को बार-बार निरस्त कर दिया जाता है और फिर उसी दस्तावेज के आधार पर कनेक्शन जोड़ दिया जाता है जो संदेह के घेरे में है। उन् कहा कि शहर में कई जगह जर्जर तार एवं पोल ऐसी हालत में पड़े हैं जहां कभी भी कोई भीषण दुर्घटना हो सकती है ।सरकार की रिवैंप विद्युत सुधार योजना अंतर्गत जर्जर तारों एवं खम्भो को बदला जाना था परंतु वह कहीं भी धरातल पर दिखाई नहीं दे रहा है। आगे कहा कि एक तरफ जहां व्यापारियों का 10000 बिल बाकी रहने पर भी कनेक्शन विच्छेद कर दिया जाता है वहीं दूसरी ओर रसूखदार लोगों पर भारी भरकम बकाया होने पर भी अनवरत बिजली चलती रहती है। जिला महामंत्री प्रितपाल सिंह ने कहा कि बरसात आ चुकी है प्रायः बारिश के दिनों में बिजली के तार टूटने से एवं बिजली गिरने से काफी संख्या में जनहानि देखने को मिलती है उन्होंने कहा कि विद्युत पोल में करंट उतरना, बिजली का तार या पोल टूट कर गिर जाना, घरों में हाई वोल्टेज करंट उतर जाना बरसात में प्रायः देखने को मिलता है यदि समय रहते इन समस्याओं को ठीक कर लिया जाए तो आम आदमी एवं बेजुबान पशुओं की जान बच सकती है‌।आगे कहा कि अप्रैल 2023 से नवंबर 2023 के बीच विद्युत करंट लगने से और तार पोल पोल गिरने से 41 घटनाएं हुई इसमें 11 लोगों की मौत हो गई इसी समय 22 मामलों में करंट लगने से 22 बेजुबान पशुओं की मौत हो गई। नगर अध्यक्ष प्रशांत जैन एवं नगर महामंत्री जसकीरत सिंह ने कहा कि क्षतिग्रस्त परिवर्तको को वर्कशॉप तक पहुंचाने तथा नए परिवर्तकों को वर्कशॉप से कार्य स्थल तक ले जाने का दायित्व विभाग का निर्धारण किया गया है‍। परंतु आज भी उपभोक्ताओं को अपने निजी साधन से परिवर्तको की ढुलाई करनी पड़ती है उन्होंने आगे कहा कि 1मई 2017 से लागू नई व्यवस्था के अनुसार शहरी क्षेत्र में क्षतिग्रस्त परिवर्तको को 24 घंटे के अंदर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में क्षतिग्रस्त परिवर्तको को 48 घंटे में बदलने की व्यवस्था की गई है परंतु हफ्तों तक उपभोक्ता अंधेरे में रहने को बाध्य हैं संगठन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेश जायसवाल एवं राजू जायसवाल एवं प्रदीप जायसवाल ने कहा कि मीटर रीडर द्वारा बिना मीटर रीडिंग के ही बिल भेज दिया जाता है जिस कारण उपभोक्ताओं को बेवजह कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है। इतना ही नहीं लोकल फाल्ट के नाम पर घंटो बिजली आपूर्ति बाधित रहती है जबकि गर्मी के लिए ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाने के लिए फरवरी महीने से ही कवायत चल रही है‌। अमित अग्रवाल एवं पंकज कनोडिया, टीपू अली, दीप सिंह पटेल, विनोद जायसवाल, कृष्णा सोनी ने संयुक्त वक्तव्य में कहा कि जनपद के विभिन्न इलाकों में लो वोल्टेज की समस्या एवं लंबी दूरी के कनेक्शन से दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से पंकज कनोडिया, ्् विनोद जायसवाल, कृष्णा सोनी, दीपक सोनी धर्मेंद्र प्रजापति आदि व्यापारी मौजूद रहे ।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow