उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली प्रदेशों के आई आई ए पदाधिकारियों ने ली पद और गोपनीयता की शपथ

Jul 1, 2024 - 22:18
 0  20
उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली प्रदेशों के आई आई ए पदाधिकारियों ने ली पद और गोपनीयता की शपथ

आईआईए के नए सत्र 2024–25 की शुरुआत– राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नीरज सिंघल सहित 180 पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण समारोह आईआईए भवन लखनऊ में संपन्न हुआ | 

 प्रदेश के एमएसएमई मंत्री श्री राकेश सचान की उपस्थिति में आयोजित हुआ आईआईए का शपथ ग्रहण समारोह |

हिन्द भास्कर, लखनऊ।

आईआईए के वर्ष 2024-25 के नए सत्र का प्रारंभ आज दिनांक 1 जुलाई 2024 से हो गया है इस अवसर पर आईआईए के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नीरज सिंघल के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड एवं दिल्ली प्रदेश से 180 नव-नियुक्त पदाधिकारी ने एमएसएमई के उत्थान एवं विकास हेतु अपने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली गयी। शपथ ग्रहण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में उत्तर प्रदेश सरकार में एमएसएमई मंत्री श्री राकेश सचान की गरिमामई उपस्थिति रही जो समस्त आईआईए पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह के साक्षी बने।

इस अवसर पर आईआईए के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नीरज सिंघल ने बताया कि आईआईए विगत 39 वर्षों से एमएसएमई के उत्थान हेतु कार्य करता आया है और यह अपने गौरवशाली उपलब्धियां के साथ सदैव ही प्रयासरत है तथा वर्ष 2024-25 में भी नई उपलब्धियां हासिल करेगा। आईआईए अपने मिशन Transforming MSME towards industry 4.0 and 48 को आगे बढ़ाते हुए एमएसएमई को नई ऊंचाइयों तक ले जाने का प्रयास करेगा।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वर्ष 2024-25 के लिए आईआईए के लक्ष्य पर चर्चा करते हुए बताया कि प्रदेश में लीज होल्ड औद्योगिक भूमि को फ्री होल्ड कराए जाने की मांग को सरकार के समक्ष और अधिक प्रभावी ढंग से उठाया जाएगा ताकि प्रदेश में उद्योग बिना बाधा के आगे बढ़ सके। कार्यकारी वर्ष 2024 – 25 के लिए आईआईए के मुख्य लक्ष्य निम्नलिखित होंगे श्री सिंघल ने बताया :-

• आईआईए की गतिविधियों एवं चैप्टर का विस्तार देश के कम से कम 11 राज्यों में किया जायेगा जिससे आईआईए कि सदस्यता को भी कम से कम 20,000 तक बढ़ाया जायेगा |

• माह दिसम्बर 2024/ जनवरी 2025 में देश के MSME के उत्पादों की वृहद प्रदशनी “बिल्ड भारत एक्सपो” का आयोजन दिल्ली/ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र जिसमें सभी सेक्टरो से उत्पादों को शामिल किया जायेगा |

• MSME के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए आईआईए आईआईए के एक्सपोर्ट फैसिलिटेशन सेन्टर को सुदृढ़ किया जायेगा|

• राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर MSME उद्यमी महासम्मेलनो का आयोजन किया जायेगा |

• देश की कम से कम 20 राज्य स्तरीय MSME संगठनो के साथ मिलकर MSME Sector के उत्थान के लिये A-20 फोरम के माध्यम से विभिन मुद्दों पर चर्चाएँ की जायेगी और सरकार के विभिन्न स्तरों पर प्रस्ताव प्रस्तुत किये जायेगे |

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री राकेश सचान, माननीय मंत्री MSME उत्तर प्रदेश ने अपने उद्बोधन में बताया कि प्रदेश में उद्योगों के विकास में आईआईए की अहम भूमिका है और सरकार आई0आई0ए0 के इस नेक कार्य में पुर्ण सहयोग करेगी। एमएसएमई सेक्टर सरकार की उच्च प्राथमिकता में है क्योकि कृषि क्षेत्र के उपरान्त एमएसएमई सेक्टर सबसे अधिक रोजगार प्रदान करता है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि प्रदेश में उद्यमियों के शोषण को रोकना सरकार की प्राथमिकता है | माननीय मंत्री जी ने बताया कि आईआईए के मांग पत्र पर जुलाई माह में एक बैठक उत्तर प्रदेश शासन में प्रमुख सचिव, MSME श्री आलोक कुमार, आईएएस के साथ कर चर्चा की जाएगी | प्रदेश के MSME डेटा में सुधार एवं उद्यम रजिस्ट्रेशन को प्रोमोट करने के लिए मंत्री जी ने आईआईए से सहयोग की अपील की | जिसपर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नीरज सिंघल ने कहा कि उद्यम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए आईआईए पूर्ण सहयोग करेगा | इसके लिए जिला उद्योग केन्द्रों के साथ मिलकर एक पखवाडा घोषित किया जायेगा |

मुख्य अतिथि श्री राकेश सचान ने बताया कि सरकार उद्योगों को बढ़ावा देने में बैंक से लोन इत्यादि लेने में आ रही दिक्कतों को सरल करने की बात कही और प्रदेश में उद्योग स्थापित करने के लिए सस्ती दरों पर जमीन एवं बिजली उपलब्ध कराने में सरकार के प्रयासों के बारे में बताया | Pledge Park में कुछ दिक्कतें आ रही है जिसमें 12 मीटर लिंक रोड की समस्या है जिस पर सरकार विचार कर रही है |

आईआईए महासचिव श्री आलोक अग्रवाल ने आईआईए वर्ष 2023 - 24 की उपलब्धियों को बताया और सभी पदाधिकारियों को आईआईए के इस नए सत्र में उनकी जिम्मेदारियों के सफल निर्वाहन की शुभकामनायें दीं और बताया कि आईआईए का यह वर्ष उद्योग हित में अत्यंत सफल साबित होगा।

आईआईए के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री दिनेश गोयल ने समक्ष पदाधिकारी को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बताया आईआईए प्रदेश की एक ऐसी संस्था है जो हर क्षण उद्यमियों के हित में कार्य करती है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow